JEE Main 2021| Candidates of B.Arch and B.Planning will not get the opportunity to appear in exam for four times, only two sessions will be conducted in February and May | B.Arch और B.Planning के कैंडिडेट्स को नहीं मिलेगा चार बार परीक्षा का मौका, फरवरी और मई में सिर्फ दो सेशन में ही होंगी परीक्षाएं

  • Hindi News
  • Career
  • JEE Main 2021| Candidates Of B.Arch And B.Planning Will Not Get The Opportunity To Appear In Exam For Four Times, Only Two Sessions Will Be Conducted In February And May

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक महीने पहले

  • कॉपी लिंक

देश के इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन के लिए होने वाली JEE मेन 2021 अगले साल से चार सेशन में आयोजित की जाएगी। हालांकि, यह सुविधा सभी स्टूडेंट्स के लिए नहीं होगी। इस बारे में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने जेईई मेन 2021 को लेकर फ्रीक्वेंट्ली आस्क्ड क्वेश्चंस (FAQ) जारी किए हैं। NTA ने स्टूडेंट्स के सवालों का जवाब देते हुए जानकारी दी कि एक साल में होने वाले जेईई मेन के चारों सेशंस में कौन शामिल हो सकते हैं और कौन नहीं।

BE- BTech के लिए चार बार होगी परीक्षा

NTA की तरफ से जारी FAQ के मुताबिक, जेईई मेन के चारों सेशन में शामिल होने की सुविधा सिर्फ उन स्टूडेंट्स को दी जाएगी, जो बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग (BE) या बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (BTech) के लिए एंट्रेंस एग्जाम देंगे। ऐसे स्टूडेंट्स जो बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर (BArch) या बैचलर ऑफ प्लानिंग (BPlanning) का एंट्रेंस एग्जाम देंगे, उन्हें सिर्फ दो ही मौके दिए जाएंगे।

NTA की तरफ से जारी FAQ पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

बीआर्क और बीप्लानिंग के लिए दो सेशन में होगी परीक्षा

एजेंसी ने यह भी बताया है कि जेईई मेन बीई और बीटेक के लिए फरवरी, मार्च, अप्रैल और मई में होने वाली परीक्षाओं के लिए स्टूडेंट्स चारों सेशन में शामिल हो सकते हैं। हालांकि, बीआर्क और बीप्लानिंग के लिए फरवरी और मई में सिर्फ दो सेशन में परीक्षाएं होंगी। स्टूडेंट्स को इसके लिए आवेदन करने के अभी भी साल में सिर्फ दो मौके ही मिलेंगे।

JEE मेन 2021 के परीक्षा पैटर्न में बदलाव

बीई और बीटेक मं एडमिशन के लिए 23 से 26 फरवरी, 15 से 18 मार्च, 27 से 30 अप्रैल और 24 से 28 मई को परीक्षा आयोजित की जाएगी। FAQ में NTA ने यह भी बताया कि JEE (मेन) 2021 के सिलेबस में कोई बदलाव नहीं किया गया है। हालांकि, अलग- अलग बोर्ड द्वारा अपना सिलेबस कम करने के कारण परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया गया है। अब कैंडिडेट्स को उपलब्‍ध 90 सवालों में से सिर्फ 75 अटेम्‍प्‍ट करने होंगे। इसके अलावा 15 ऑप्‍शनल सवाल भी होंगे, जिनमें कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी।

यह भी पढ़ें-

JEE Main 2021:एक से ज्यादा सेशन में शामिल हो सकेंगे स्टूडेंट्स, बेस्ट स्कोर को माना जाएगा फाइनल स्कोर; NTA ने परीक्षा को लेकर दिए स्टूडेंट्स के सवालों के जवाब

JEE मेंस 2021:पहली बार इंग्लिश के साथ हिंदी समेत 13 भाषाओं में होगी परीक्षा, निगेटिव मार्किंग भी हटाई गई

Leave a Reply

%d bloggers like this: