Mumbai civic body BMC issues revised guidelines for passengers arriving from UK and Europe | UK-यूरोप से आने वाला हर पैसेंजर 14 दिन क्वारैंटाइन होगा; 7वें दिन टेस्ट होगा, जिसका खर्च यात्री ही उठाएगा


  • Hindi News
  • National
  • Mumbai Civic Body BMC Issues Revised Guidelines For Passengers Arriving From UK And Europe

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबईएक महीने पहले

  • कॉपी लिंक
मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर UK से आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना टेस्ट के खास इंतजाम किए गए थे। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर UK से आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना टेस्ट के खास इंतजाम किए गए थे। -फाइल फोटो

ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन मिलने के बाद बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन (BMC) ने नई SOP जारी की है। इसके मुताबिक, यूरोप और UK से आने वाले हर यात्री को 14 दिन क्वारैंटाइन रहना होगा। ये क्वारैंटाइन दो हिस्सों में होगा। इसके अलावा क्वारैंटाइन के 7वें दिन यात्री का RT-PCR टेस्ट किया जाएगा, जिसका खर्च यात्री को ही उठाना होगा।

क्या है BMC की रिवाइज्ड SOP

  • रिवाइज्ड SOP के मुताबिक, UK और यूरोप से आने वाले यात्री को 7 दिन इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन में रखा जाएगा।
  • 7वें दिन उसके होटल या संस्थान में ही RT-PCR टेस्ट किया जाएगा। इसका खर्च यात्री ही उठाएगा।
  • अगर यात्री का टेस्ट निगेटिव आता है तो उसे घर जाने की मंजूरी दी जाएगी, लेकिन 7 दिन तक उसे होम क्वारैंटाइन होना होगा।
  • गाइडलाइन के मुताबिक, होम क्वारैंटाइन स्टैंप लगाया जाएगा और यात्री से शपथपत्र लिया जाएगा कि वो 7 दिन होम क्वारैंटाइन नियम का पालन करेगा।
  • अगर टेस्ट पॉजिटिव आता है तो यात्री को कोविड अस्पताल में शिफ्ट किया जाएगा। ब्रिटेन से आने से वाले यात्री को सेवन हिल्स जैसे कोविड सेंटर और दूसरे देशों से आने वालों को GT अस्पताल भेजा जाएगा।
  • विदेशी दूतावासों और काउंसलर जनरल के दफ्तर में काम करने वाले यात्रियों को इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन में नहीं रखा जाएगा। इसके लिए वंदे भारत मिशन के तहत जो गाइडलाइन जारी की गई हैं, उन्हें अफसरों को फॉलो करना होगा।

24 दिसंबर को जारी की गई थी पहली गाइडलाइन
BMC ने कहा कि अगले आदेश तक ब्रिटेन, साउथ अफ्रीका, मिडिल ईस्ट और यूरोपीय देशों से मुंबई एयरपोर्ट आने वाले यात्रियों के लिए ये गाइडलाइंस जारी रहेंगी। ब्रिटेन में म्यूटेटेड कोरोना के मामले सामने आने के बाद BMC ने 24 दिसंबर को पहली गाइडलाइन जारी की थी। इसमें BMC ने कहा था कि ब्रिटेन से पिछले एक महीने में मुंबई आए यात्रियों को ट्रेस किया जाएगा। ब्रिटेन से सीधे या कनेक्टेड और इनडायरेक्ट फ्लाइट्स के जरिए आने वालों को आवश्यक तौर पर इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन में भेजा जाएगा और इसका खर्च यात्री ही उठाएंगे।



Source link

Leave a Reply

%d bloggers like this: