Bihar BJP Leader Dr. Prem Kumar Social Media Account Hacked, complaint filed in Gaya | सोशल मीडिया अकाउंट में लगी लड़की की तस्वीर तो चौंक गए पूर्व मंत्री; केस दर्ज कराया

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar BJP Leader Dr. Prem Kumar Social Media Account Hacked, Complaint Filed In Gaya

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गया14 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • पूर्व मंत्री के प्रोफाइल में लगी है किसी विदेशी युवती की तस्वीर
  • गया के कोतवाली थाने में दर्ज कराया है केस

नगर विधायक व पूर्व कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार का सोशल मीडिया अकाउंट हैक हो गया है। पूर्व मंत्री के प्रोफाइल में किसी और की फोटो होने का दावा प्रेम कुमार की ओर से किया गया है। प्रोफाइल में किसी विदेशी युवती की तस्वीर लगी है। संबंधित मामले में डॉ प्रेम कुमार ने कोतवाली थाने में केस दर्ज कराया है।

डॉ. प्रेम कुमार के निजी सहयोगी शेखर ने बताया कि उनका अकाउंट सोमवार को किसी ने हैक कर लिया। इस बात की जानकारी खुद मंत्री ने अपने कार्यकर्ताओं को दी। पता चला कि उनका सोशल मीडिया अकाउंट किसी के द्वारा न केवल हैक किया गया है बल्कि किसी की तस्वीर भी लगायी गयी है। इस पर डॉ. प्रेम कुमार ने एसएसपी से बात की और अकाउंट हैक किए जाने की सूचना दी। इसके बाद एक लिखित शिकायत कोतवाली थाने को दी गयी।

थाने को दिये गये शिकायत पत्र में मंत्री का कहना है कि सोमवार को करीब साढ़े तीन बजे जब मैंने अपना सोशल मीडिया अकाउंट चेक किया तो दंग रह गया। उसमें हमारी तस्वीर की जगह पर दूसरे की तस्वीर लगी है। उन्होंने अपने मित्रों से भी जानकारी ली तो पता चला कि इसे किसी ने हैक कर रखा है। हैक करने वाले ने कई प्रकार की गलत सूचनाएं डाल रखी है। पूर्व मंत्री ने कोतवाली पुलिस से मामले की जांच करवा कर इसके लिए जिम्मेवार व दोषी व्यक्ति के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। थाने में दिये गये शिकायत पत्र की कॉपी की प्रतिलिपि एसएसपी को सौंपी है।

इधर एसएसपी आदित्य कुमार ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है। इसे गंभीरता लेते हुए बारीकी से जांच कर दोषी को गिरफ्तार का आदेश दिया गया है। मामले की जांच कोतवाली पुलिस द्वारा की जा रही है। कोतवाली पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। इस मामले की जांच खुद कोतवाली इंस्पेक्टर कर रहे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: