First phase of acquisition of 100 acres of land in Patna district for the construction of Ring Raid | रिंग राेड के निर्माण के लिए पटना जिले में 100 एकड़ जमीन का हाेगा अधिग्रहण, पहला फेज शुरु

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना15 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
रिंग रोड के निर्माण के लिए प्रस्तावित जमीन। - Dainik Bhaskar

रिंग रोड के निर्माण के लिए प्रस्तावित जमीन।

  • शेरपुर से दिघवारा के बीच के रैयती किसानों से आवेदन लेने की चल रही प्रक्रिया
  • जमीन का अधिग्रहण कर पटना जिला प्रशासन एनएचएआई को देगा, तब शुरू होगा निर्माण
  • सड़क निर्माण के लिए जमीन देने वाले रैयत किसानों काे खेती वाली जमीन की सर्किल दर का 4 गुना मुआवजा मिलेगा

पटना रिंग रोड का निर्माण कार्य जल्द शुरू होगा। इसके लिए जमीन अधिग्रहण का कार्य शुरू हो गया है। जिला प्रशासन के मुताबिक इसके निर्माण के लिए करीब 350 एकड़ जमीन का अधिग्रहण होगा। इसमें पटना, वैशाली और सारण जिले शामिल हैं।

पटना में 100 एकड़ जमीन का अधिग्रहण होना है। इसके पहले फेज की शुरुआत हाे गई है। इसके तहत शेरपुर से दिघवारा के बीच के रैयती किसानों से आवेदन लेने की प्रक्रिया चल रही है। इस इलाके में सड़क निर्माण के लिए जमीन देने वाले रैयत किसानों काे खेती वाली जमीन की सर्किल दर का चार गुना मुआवजा मिलेगा।

वहीं, शहरी क्षेत्र में आने वाली बसावट वाली जमीन का दोगुना मुआवजा दिया जाएगा। इस जमीन का अधिग्रहण कर पटना जिला प्रशासन एनएचएआई को देगा। इसके बाद एनएचएआई द्वारा निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा।

चार से छह लेन चौड़ी हाेगी सड़क
रिंग रोड की लंबाई 137 किमी है। इस रोड की चौड़ाई चार से छह लेन की होगी। इसका कार्य गंगा नदी पर नए पुल बनने के बाद पूरा होगा। बिहटा-सरमेरा रोड के बीच सड़क बनने से भोजपुर, बक्सर, गया, औरंगाबाद, रोहतास, कैमूर व जमुई से आने-जाने वालों को पटना के अंदर प्रवेश करने की जरूरत नहीं हाेगी।

ये इलाके हैं रिंग रोड का हिस्सा
रिंग रोड का निर्माण कई पैकेज में होगा। पहला दिघवारा से शेरपुर तक, दूसरा शेरपुर से कन्हौली, इसके बाद यह एसएच 78 में मिलेगा। इसके जरिए डुमरी, बेलदारी चक होते कच्ची दारगाह, सबलपुर तक रिंग रोड का अलाइनमेंट माना जा रहा है। यहां से रिंग रोड नए बन रहे कच्ची दरगाह-बिदुपुर गंगा पुल से जुड़ेगा। बिदुपुर से वैशाली जिले के सराय तक तीसरा पैकेज होगा। चौथा पैकेज सराय से दिघवारा तक होगा। इन चारों पैकेज में करीब 350 एकड़ जमीन का अधिग्रहण पटना, वैशाली और सारण जिले में किया जाएगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: