Overload will add damage to public property, case against two company directors | ओवरलोड में पब्लिक प्रापर्टी को क्षति पहुंचाने की धारा जुड़ेगी, दो कंपनी के निदेशक पर केस

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गया15 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • नेपाल लॉजिस्टिक और ब्रहमपुत्र मेटेलिक्स के प्रबंध निदेशकों को बनाया गया आरोपित
  • पहली बार व्हीकल एक्ट उल्लंघन के साथ पब्लिक प्रापर्टी क्षति पहुंचाने की एफआईआर

अब ओवरलोड चलने वाले वाहनों पर सख्ती का डंडा चला है। पहले ओवरलोड वाहनों के मामले में व्हीकल एक्ट उल्लंघन का मामला दर्ज किया जाता था, किन्तु अब इसमें प्रेवेंशन ऑफ डैमेज टू पब्लिक प्रापर्टी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

संभवत: गया जिले में इस तरह की पहली कार्रवाई हुई है और ऐसा पहला मामला मुफस्सिल थाना में दर्ज किया गया है। की गई है। अब गुनाह सिर्फ ओवरलोड करने का नहीं रह जाएगा, बल्कि पब्लिक संपति जैसे सड़क और पुल को क्षति पहुंचाने की मंशा से संबंधित धाराओं को भी जोड़कर कार्रवाई की जाएगी। इस प्रकार की सख्ती और कार्रवाई के बीच ओवरलोड के धंधे से मुनाफे का गोरखधंधा संचालित करने वालों में हड़कम्प देखा जा रहा है।

नेपाल लॉजिस्टिक के प्रबंध निदेशक पर एफआईआर दर्ज
इसी तरह के मामले में नेपाल लॉजिस्टिक एवं ब्रहमपुत्र मेटेलिक्स लिमिटेड के प्रबंध निदेशकों पर एफआईआर दर्ज की गई है। एफआईआर में मोटर वाहन अधिनियम 1988 की धारा 133, 199 के साथ-साथ प्रेवेंशन ऑफ डैमेज टू पब्लिक प्रॉपर्टी एक्ट एवं अन्य अधिनियमों की सुसंगत धाराओं का जिक्र किया गया है। मोटरयान निरीक्षक गया कौशल किशोर त्रिपाठी के द्वारा एफआईआर दर्ज कराई गई हे। मुफस्सिल थाना में इसे लेकर कांड संख्या 20।2021 दर्ज हुई है।

अधिक भार के कारण सड़कों व पुलों की क्षति
एफआईआर में कहा गया है, 39 टन ज्यादा माल लोड हुआ था, जो मोटर वाहन अधिनियम की धारा 113, 199 का उल्लंघन है। साथ ही साथ सकलयान क्षमता से अधिक भार लेकर चलने के कारण सड़कों एवं पुलों की भी क्षति होती है। इस प्रकार इनके द्वारा प्रेवेंशन ऑफ डैमेज टू पब्लिक प्रॉपर्टी एक्ट के उल्लंघन का कार्य भी किया गया है।

ऐसा करने के पीछे इनकी मंशा लौरी के सप्लायर एवं माल भेजने वाले फर्म को लाभ पहुंचाने की थी। बार-बार ऐसा करते हुए ये सरकारी नियमों की अवहेलना कर रहे हैं। इसे लेकर लौरी के सप्लायर नेपाल लॉजिस्टिक, 126 चितरंजन एवेन्यू कोलकाता एवं माल भेजने वाले फर्म ब्रहमपुत्र मेटेलिक्स लिमिटेड, ग्राम कामता गोला रामगढ़ झारखंड के प्रबंध निदेशक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई हो।

देर रात्रि को जांच में पकड़ा गया था लॉरी वाहन
मुफस्सिल थाना में दर्ज कराए गए एफआईआर में मोटर यान निरीक्षक के द्वारा कहा गया है कि बीती देर रात्रि को भुसुंडा मोड़ के पास वाहनों की जांच की जा रही थी। इसी क्रम में लौरी संख्या एनएल 01 के 6824 का चालक जांच को भांपते हुए तेज गति में वाहन को भगाने की कोशिश करने लगा। मौजूद बलों के द्वारा किसी तरह रोका गया और पूछताछ शुरू की गई। इस क्रम में चालक द्वारा दिखाए गए कागजात से 39 टन माल अधिक लोड मिले। कागजात के आधार पर लोडिंग क्षमता 45 टन 5 सौ किलोग्राम की थी, जो 84 टन के करीब पाई गई।

ओवरलोडिंग का खेल खत्म करने को लेकर लिखा पत्र
गया| नेपाल लॉजिस्टिक एवं ब्रहमपुत्र मेटेलिक्स लिमिटेड के प्रबंधक के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है। किन्तु इसमें बड़ी बात यह है कि इस तरह की कार्रवाई को लेकर बिहार प्रदेश मोटर सिंडिकेट गया के उपाध्यक्ष नरेश गोयल ने परिवाहन विभाग के सचिव को पत्र लिखा था। पत्र में ओवरलोडिंग का खेल खत्म करने के लिए सुझाव दिए गए थे। कहा गया था कि बिहार के परिवहन चेकिंग तंत्र यथा सभी प्रवर्तन अधिकारी, जिला परिवहन पदाधिकारी, सभी मोटर वाहन निरीक्षक को यह सख्त आदेश दें कि जो भी वाहन अति लदान (ओवरलोडिंग) करते हुए पकड़े जाते हैं।

पुलिस की छापेमारी के दौरान तीन बालू लदे ट्रैक्टर बरामद
आमस थाना क्षेत्र में माफियाओं के खिलाफ कई स्थानों पर पुलस की टीम ने छापेमारी की। सूचना के बाद आमस थानाध्यक्ष ने रविवार की देर रात को हेमजापुर के समीप से बालू लोडेड दो ट्रैक्टरों को बरामद किया है। वहीं रेगनिया मोड़ के समीप से एक बालू लदे ट्रैक्टर को पकड़ा गया।

विदित हो कि जिला पदाधिकारी के आदेश के बाद सभी बालू घाटों को बंद कर दिया गया है। फिर भी नदी किनारे बसे गांव से माफियाओं द्वारा अवैध रूप से नदी के कई घाटों से बालू का उठाव किया जा रहा है तथा बाजारों में बेचा जा रहा। पुलिस की उक्त कार्रवाई के बीच बालू लदे तीन ट्रैक्टर तो बरामद कर लिए गए, किन्तु इसमें संलिप्त लोग अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकले।

बरामद ट्रैक्टर के नंबर के आधार पर उसे सत्यापित कर पुलिस आगे की कार्रवाई में जुटी थी। इस संबंध में आमस थानाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह ने बताया की किसी भी तरह के अवैध कार्य करने वालों के खिलाफ पुलिस त्वरित कार्रवाई कर रही है। ऐसे माफियाओं की अब खैर नहीं है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: