Dumper Deputy Operator dies in suspicious condition in Naubatpur | नौबतपुर में डंपर के उपचालक की संदेहास्पद स्थिति में मौत

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नौबतपुर15 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • डंपर मालिक, चालक समेत तीन के खिलाफ हत्या का केस दर्ज

शनिवार की रात नौबतपुर में डंपर के उप चालक की संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गई। मृतक 19 वर्षीय रितेश कुमार उर्फ बिट्टू खिड़ी मोड़ थाने के अचल टोला निवासी राकेश कुमार का पुत्र था। घटना तरेत गांव में डंपर से बालू अनलोड करने के दौरान बताई जा रही है।

पुलिस का कहना है कि बालू अनलोड करने के दौरान डंपर के ऊपर से क्राॅस कर रहे बिजली के तार के संपर्क में आने से करंट लगने मौत हुई है जबकि मृतक के पिता राकेश कुमार ने डंपर मालिक पालीगंज के पैपुरा के दीपक कुमार सिंह उर्फ बजरंगी, चालक पालीगंज के रामपुर नगवां निवासी राणा सिंह उर्फ राणा और चालक का मौसेरा भाई मुन्ना कुमार जो उन्हीं के गांव का है, के विरुद्ध साजिश के तहत हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि रितेश दीपक कुमार सिंह के डंपर यूपी 77 एन 7219 का उप चालक था। घटना की जानकारी मुन्ना कुमार ने दी। उसने बताया कि उनका पुत्र रितेश नौबतपुर अस्पताल में भर्ती है। इसके बाद वे अपने परिवार के साथ नौबतपुर रेफरल अस्पताल पहुंचे तो उनका पुत्र नहीं था।

अस्पताल की एक महिला कर्मी ने बताया कि एक युवक को लेकर कुछ लोग आए थे लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। वे लोग उसे एंबुलेंस से पटना ले गए हैं। बाद में एंबुलेंस का पीछा कर दीघा ओभर ब्रिज के पास पकड़ा। जिसमें उनके बेटे का शव था। उन्होंने आरोप किया कि वे लोग उनके बेटे का शव कहीं फेंकने जा रहे थे।

पुलिस का तर्क परिजनों के गले नहीं उतर रहा
करंट से मौत संबंधी पुलिस का तर्क परिजनों के गले नहीं उतर रहा है। परिजनों का कहना है कि करंट लगने पर शरीर जल जाता है लेकिन मृतक के शरीर का कोई हिस्सा नहीं जला है। उसका गला और छाती फुला हुआ था। सुबह में मुंह से खून निकल रहा था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद हीं मौत के कारणों का खुलासा हो सकता है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: