Explanation sought from 6 workers for negligence in ear tagging work of animals | पशुओं के ईयर टैगिंग कार्य में लापरवाही करने में 6 कर्मियों से मांगा गया स्पष्टीकरण

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आरा15 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

भोजपुर जिले में पशुओं का चल रहा ईयर टैगिंग कार्य में बड़े स्तर पर लापरवाही सामने आई है। जिले के आधा दर्जन प्रखंडों के नोडल पदाधिकारी के द्वारा लापरवाही करने के कारण यह कार्य काफी धीमी गति से चल रहा है।

जिला पशुपालन पदाधिकारी के द्वारा समीक्षा के क्रम में इसका खुलासा होने पर उन्होंने जिले के पीरो, संदेश, सहार, उदवंतनगर, बिहिया और अगिआंव प्रखंड के नोडल पदाधिकारी से 24 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण मांगा है। उसमें पूछा गया है, विभागीय कार्य में लापरवाही करने के खिलाफ क्यों नहीं आपका वेतन बंद करते हुए आप के खिलाफ राज्य मुख्यालय को विभागीय कार्रवाई के लिए रिपोर्ट किया जाए।

जिन प्रखंड नोडल पदाधिकारी से स्पष्टीकरण मांगा गया है, उनमें पीरो के डॉक्टर संजीव कुमार सिन्हा, संदेश के डॉ दिनकर कुमार, सहार के डॉ. संजय कुमार, उदवंतनगर के डॉ रणधीर कुमार, बिहिया के डॉ सतीश कुमार और अगिआंव कि प्रखंड नोडल पदाधिकारी डॉक्टर अनिता कुमारी शामिल है। इन सभी के प्रखंड क्षेत्र में ईयर टैगिंग का कार्य 50% से भी नीचे है।

यह कार्य धीमा होने के कारण पूरे जिले की रैंकिंग प्रभावित हो रहा है। जिला पशुपालन पदाधिकारी सिद्धधनाथ राय ने बताया कि जिले में पशुओं के ईयर टैगिंग का कार्य तेज गति से कराया जा रहा है। इसकी निर्धारित समय सीमा राज्य मुख्यालय से बढ़ाए जाने की उम्मीद है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: