New SSP’s first crime meeting, bid – no compromise on crime and criminals at any cost | नई एसएसपी की पहली क्राइम मीटिंग, बोलीं- किसी कीमत पर अपराध व अपराधियों से समझौता नहीं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भागलपुर15 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • पुलिस लाइन से निकाला फ्लैग मार्च, फरार आरोपियों के घर पर दी दबिश
  • पंचायत चुनाव और आने वाले पर्व-त्योहारों को लेकर सुरक्षा व्यवस्था मजबूत करने को कहा

नई एसएसपी निताशा गुड़िया ने रविवार को पहली क्राइम मीटिंग की। उन्होंने कहा कि थाना पहुंचने वाले मामलों की थानेदार संजिदगी से जांच होनी चाहिए। उन्होंने थानेदारों से कहा कि क्राइम और क्रिमिनल से किसी कीमत पर समझौता नहीं होगा।

निष्पक्ष और शांतिपूर्ण पंचायत चुनाव के साथ-साथ आने वाले पर्व-त्योहारों की तैयारी के भी निर्देश दिए। रविवार को पुलिस ऑफिस में एसएसपी और थानेदारों के बीच मीटिंग के बाद पुलिस लाइन से फ्लैग मार्च निकाला गया, जिसमें एसएसपी शामिल हुईं। यह मार्च शहर के संवेदनशील इलाकों से भी गुजरा। पुलिस टीम ने शहर इलाकों के फरार आरोपी, वारंटियों के घर दबिश भी दी।

अलग-अलग मामलों में एसएसपी ने थानेदारों व अधिकारियों को दिए कई निर्देश
पंचायत चुनाव : एसएसपी ने बताया कि पंचायत चुनाव प्रभावित करने वाले तत्वों को चिह्नित कर उनपर कार्रवाई का निर्देश थानेदार को दिया गया है।
क्राइम कंट्रोल : ओपी स्तर के थाने से 5, दारोगा स्तर के थानेदार से 10 और इंस्पेक्टर इंचार्ज वाले थाने से 20 गुंडों का नाम मांगा गया है, ताकि उन्हें रजिस्टर में दर्ज किया जा सके और उनकी निगरानी की जा सके।
गंभीर केसों में गिरफ्तारी : गंभीर केस हत्या, लूट, डकैती, अपहरण (एसआर केस) जैसे मामलों में फरार आरोपियों की गिरफ्तारी का निर्देश थानेदार को दिया गया है।
गतिविधियों पर नजर : हाल के दिनों में बम विस्फोट की घटना को लेकर पुराने एक्सप्लोसिव एक्ट में चार्जशीटेड आरोपियों की गतिविधि का पता लगाकर डीएसपी से रिपोर्ट मांगी गई है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: