Police reached the whereabouts of criminals through CCTV footage and technical cell | सीसीटीवी फुटेज और टेक्निकल सेल से अपराधियों के ठिकाने तक पहुंची पुलिस

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दरभंगा16 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • पुलिस और एसटीएफ की भूमिका अहम, 11 बदमाश भेजे गए जेल

जिले के बहुचर्चित बड़ा बाजार सोना लूटकांड में पुलिस एक किलो 472 ग्राम सोना, 71 हीरे के जेवरात व 30 लाख 89 हजार नकद के साथ 11 बदमाशों को दबोचने में सफल रही है। और सभी को समस्तीपुर जिला से गिरफ्तार किया गया है। हालांकि इस मामले में पुलिस को आम लोगों की ओर से गलाए गए सीसीटीवी फुटेज एवं पुलिस की खुफिया तंत्र काम आया है। वहीं, पुलिस इस मामले में अभी भी छापेमारी में लगी है। कई अन्य को गिरफ्तार करने के बीच पुलिस अन्य बिन्दुओं पर जांच कर रही है।

घटना के दिन 9 दिसम्बर को भागने के दौरान पुलिस ने अलीनगर विवि थाना क्षेत्र अन्तर्गत महिंद्रा शो-रूम के पास से दो बाइक और ग्राहक सहित अन्य के लूटे गए माेबाइल फोन को बरामद कर वहां लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला था। वहां से सिमरी सरवाड़ा के निकट के सीसीटीवी और फिर समस्तीपुर में लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उस बाइक जिस पर अपराधी सवार थे। उसके आधार पर समस्तीपुर के अपराधियों की ओर से घटना करने का मामला पुलिस ने पकड़ा था।

75% गहने की बरामदगी शेष, 80 में 71 पीस हीरे मिले

हालांकि घटना को अंजाम देने वाले लुटेरे अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। इस मामले में सोना को खपाने वाले तरूण साह से पुलिस को कई सुराग मिली है। तरूण के पास रविन्द्र और हन्नी उर्फ अभिषेक संपर्क कर मामले को छुपाने और दबाने का काम किया था।

लूटे गए सोना का लगभग 75 फीसदी की बरामदगी अभी भी बांकी है। उधर गिरफ्तार किए गए 11 आरोरियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वहीं, 80 पीस में से 71 पीस हीरे और डेढ़ किलो सोना पुलिस ने बरामद किया है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: