Now the paper will be objective, will also test the examiner, will be able to see the copy within 7 days | अब ऑब्जेक्टिव होगा पेपर, एग्जामिनर का भी टेस्ट लेंगे, 7 दिन के अंदर देख सकेंगे कॉपी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उदयपुरएक घंटा पहलेलेखक: गाैरव द्विवेदी/ कैलाश सांखला

  • कॉपी लिंक
प्रमोद कुमार बूब, आईसीएआई के सेंट्रल काउंसिल मेंबर। - Dainik Bhaskar

प्रमोद कुमार बूब, आईसीएआई के सेंट्रल काउंसिल मेंबर।

  • सीए की 41वीं रीजनल कॉन्फ्रेंस उदयपुर में शुरू, 7 राज्यों के 1200 सीए वर्चुअल और फिजिकल शामिल हुए
  • पीएनबी हाउसिंग और आईआईएफएल के निदेशक सीए नीलेश एस. विक्रमसे, सीए विजय मंत्री करेंगे संबोधित

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) सीए एग्जाम के पैटर्न में बड़े बदलाव की तैयारी में है। अब परीक्षा में 100% सवाल ऑब्जेक्टिव करने का प्रस्ताव है। अभी 30% पेपर ऑब्जेक्टिव तथा 70% सब्जेक्टिव प्रश्नों का होता है।

उदयपुर में पहली बार हो रही आईसीएआई की दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस में पहुंचे आईसीएआई के सेंट्रल काउंसिल मेंबर प्रमोद कुमार बूब ने भास्कर से विशेष बातचीत में कहा कि ऑब्जेक्टिव पैटर्न से कॉपी जांचने में वक्त कम लगेगा, जिससे परीक्षा के अवसर भी बढ़ाए जा सकेंगे यानी मई व दिसंबर के अलावा भी परीक्षाएं कराई जा सकती हैं।

बूब के अनुसार एक और बदलाव देखने को मिल सकता है। अभी रिजल्ट आने के बाद अभ्यर्थी को आवेदन के 70 दिन में कॉपी मिलती है, लेकिन अब 7 दिन में ही कॉपी देख सकेंगे। कॉपी चेक करने से पहले एग्जामिनर का भी टेस्ट होगा। पेपर में 25 प्रश्न होंगे, जिसमें 18 प्रश्नों के जवाब देने होंगे। 72% या अधिक अंक वाले ही कॉपी चेक कर सकेंगे।

ओमप्रकाश चपलोत और आशीष कोठारी को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड

पहले तकनीकी सत्र में टैक्स गुरू दिल्ली के सीए गिरीश आहूजा ने फेस लैस असेसमेंट की बारीकियों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि अब आयकर विभाग के पास आपकी छोटी से छोटी जानकारी उपलब्ध है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के मद्देनजर आपके बैंक, यात्रा, खरीदारी सबकुछ सिस्टम में मौजूद है। ऐसे में कर निर्धारण करते समय विशेष ध्यान रखें अन्यथा चूक होने पर टैक्स, पेनल्टी का अतिरिक्त दायित्व आ सकता है।

दूसरे तकनीकी सत्र में जयपुर के एडवोकेट जतिन हरजाई ने बताया कि गलत तरीकों से इनपुट टैक्स क्रेडिट और गलत बिलों के लेने पर जीएसटी के साथ-साथ आयकर अधिनियम को शामिल कर कई गुणा तक पेनल्टी देनी पड़ सकती है। उन्होंने कहा कि बिना सप्लाई बिल जारी करने और बिना माल सप्लाई बिल जारी करना गुनाह है। सरकार की ओर से इस संबंध में कड़े प्रावधान किए जा रहे हैं।

काॅन्फ्रेंस में ओमप्रकाश चपलोत और सीए आशीष कोठारी को सीएसआर एक्टिविटी के लिए लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया। दूसरे दिन के प्रथम तकनीकी सत्र में मुंबई से आईसीएआई के पूर्वाध्यक्ष पीएनबी हाउसिंग व आईआईएफएल के निदेशक सीए नीलेश एस. विक्रमसे प्रैक्टिस मैनेजमेंट इन करंट सिनेरियो, सीए विजय मंत्री यूनियन बजट कैपिटल मार्केट एंड इकोनॉमी और अंतिम तकनीकी सत्र में नई दिल्ली के आईसीएआई के सीसीएम सीए प्रमोद जैन प्रैक्टिस आस्पेक्ट्स ऑफ यूनियन बजट 2020-21 विषय पर बताएंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: