Police station suspended in Maat due to poisonous liquor in Katra, Inspector Line spot | कटरा में जहरीली शराब से हुई माैत में थानेदार सस्पेंड, इंस्पेक्टर लाइन हाजिर

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुजफ्फरपुर7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
कटरा में मृतक के परिजनों से पूछताछ करते डीएम। - Dainik Bhaskar

कटरा में मृतक के परिजनों से पूछताछ करते डीएम।

  • घटना के तीन दिन बाद गांव पहुंचे डीएम़़, मेडिकल टीम दरगाह और आसपास के गांव में कर रही कैंप

कटरा के दरगाह माझी टाेला में जहरीली शराब मामले में शनिवार काे सबने अपना मुंह खाेला। चाैकीदार माेतीबुल रहमान ने शराब के कारण पांच लाेगाें की माैत बताते हुए स्थानीय शराब माफिया मुकेश सिंह के खिलाफ नामजद एफअाईअार दर्ज कराई है।

इस बीच शनिवार काे तीन अन्य लाेगाें के बीमार हाेने की बात सामने आई है। जिस शराब के पीने से माैत की बात सामने अाई है, उसकी खाली बाेतलें व कुछ भरी हुई शराब की बाेतलें भी पुलिस ने जब्त की है। इसकी जांच एफएसएल से कराई जा रही है। बात खुलने के बाद कटरा थानेदार सिकंदर कुमार काे सस्पेंड और अंचल इंस्पेक्टर मिथिलेश झा काे लाइन हाजिर कर दिया गया है। चाैकीदार माेतीबुल रहमान को भी सस्पेंड किया गया है।

शुक्रवार तक बीमारी से 4 लाेगाें की माैत की बात कहने वाले डीएम प्रणव कुमार तीन दिनाें बाद दरगाह गांव पहुंचे। उनके पहुंचने के बाद गांव में मेडिकल टीम भी बुलाई गई। सभी ग्रामीण की स्वास्थ्य जांच गई। मृतक रामचंद्र मांझी के पिता व अजय मांझी के चाचा खेलावन मांझी ने कहा कि 17 फरवरी की रात प्रमाेद दास गांव में अाया। सबकाे ट्रक पर से शराब की खाली बाेतल उतारने की बात बाेलकर ले गया, जहां शराब भी पिलाई गई। उसी शराब से सभी की माैत हुई है।

प्रशासनिक रिपाेर्ट में भी देसी शराब से माैत हाेने की आशंका
प्रशासन की जांच में देसी शराब पीने से मौत की आशंका बताई गई है। हालांकि माैत का कारण पाेस्टमार्टम रिपाेर्ट से ही स्पष्ट हाेगा। डीपीआरओ ने कहा कि प्रारंभिक जांच में पेय पदार्थ के सेवन से माैत की बात सामने अाई है। इसकी तहकीकात कराई जा रही है। पीड़ित परिवार के सदस्यों से भी पूछताछ की गई है। पुलिस, स्वास्थ्य विभाग और उत्पाद विभाग की टीम भी जांच कर रही है। स्थानीय स्तर पर देसी शराब बनाने वालाें को चिह्नित करने के लिए पुलिस सख्त निर्देश दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है।

प्राथमिक तौर पर पीड़ित परिवार को कबीर अंत्येष्टि योजना का लाभ दिया जा रहा है। खाद्यान्न भी दिया गया है। वहीं, राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामसूरत राय ने कहा कि मृतक की पोस्टमार्टम रिपोट में जहरीली शराब से मौत की पूष्टि होने पर दोषी के खिलाफ 302 का मुकदमा चलेगा। इस मामले में शामिल अधिकारी भी बख्शे नहीं जाएंगे। मंत्री ने अपनी ओर से मृतक के परिजनों को दस-दस हजार रुपए देने का आश्वासन दिया।

पुलिस ने मुंह नहीं खाेलने के लिए दी थी ग्रामीणाें काे धमकी
खेलावन मांझी ने बताया कि 18 फरवरी काे अस्पताल में दाे की माैत हाे गई। थाने की पुलिस गांव में आई थी। पुलिस अधिकारियाें ने डराया था कि बड़े हाकिम अाएंगे। किसी ने भी कहा कि शराब पीने से माैत हुई थी ताे सबकाे जेल हाे जाएगा। इसलिए डर गए थे। डर के कारण ही हमलाेगों ने बीमारी से माैत की बात पहले बताई। ग्रामीणाें की मानें ताे जिस शराब के पीने से दरगाह टाेला के 5 लाेगाें की मौत हुई, उसकी एक खेप सीतामढ़ी जिले के पुपरी भेजने की अाशंका है। अब सीतामढ़ी पुलिस काे भी इसके लिए अलर्ट रहने की जरूरत है। प्रमाेद दास फरार है। उसकी गिरफ्तारी से पता चलेगा कि जहरीली शराब कहां-कहां सप्लाई की गई है।

मामले में कटरा थानेदार काे सस्पेंड किया गया है। सर्किल इंस्पेक्टर लाइन हाजिर किए गए हैं। गांव से शराब की बाेतलें मिली हैं, जिसकी जांच एफएसएल से कराई जा रही है। गांव में अब अन्य काेई बीमार नहीं मिला है। इलाके में शराब बरामदगी के लिए लगातार छापेमारी चल रही है। तस्कराें काे गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। -गणेश कुमार, आईजी

Leave a Reply

%d bloggers like this: