Business loss of 46 thousand crores occurred in ten days; CAT requests PM, FM and NITI Aayog CEO relief | दस दिनों में हुआ 46 हजार करोड़ रुपए के कारोबार का नुकसान; व्यापारियों के संगठन कैट ने सरकार से दुकानदारों के लिए राहत पैकेज मांगा

  • Hindi News
  • Business
  • Business Loss Of 46 Thousand Crores Occurred In Ten Days; CAT Requests PM, FM And NITI Aayog CEO Relief

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कई राज्यों में पिछले दस दिनों से लग रहे नाइट कर्फ्यू और आंशिक लॉकडाउन से अब तक लगभग 46 हजार करोड़ रुपए के व्यापार का नुकसान हुआ है। इसमें से रिटेल बिजनेस में लगभग 32 हजार करोड़ रुपए जबकि होलसेल बिजनेस में लगभग 14 हजार करोड़ रुपए का नुकसान होने का अनुमान है। यह जानकारी कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने दी है और कहा है कि कोरोना के खौफ से आधे से ज्यादा उपभोक्ताओं ने बाजार आना बंद कर दिया है।

महाराष्ट्र में रिटेल बिजनेस में 10 हज़ार करोड़ के कारोबार का नुकसान

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया और राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कि व्यापार में नुकसान के आंकड़े देश के नौ राज्यों के हैं जो वहां के अहम व्यापारी नेताओं से मिली जानकारी पर निकाले गए हैं। दोनों व्यापारी नेताओं ने बताया कि महाराष्ट्र में रिटेल बिजनेस में लगभग 10 हज़ार करोड़ रुपए के व्यापार का नुकसान हुआ है जबकि होलसेल बिजनेस में नुकसान का आंकड़ा लगभग 6 हजार करोड़ रुपए का है।

छत्तीसगढ़ में लगभग 1,200 करोड़ रुपए के रिटेल बिजनेस का लॉस

कैट के मुताबिक, छत्तीसगढ़ में लगभग 1,200 करोड़ रुपए के रिटेल बिजनेस जबकि होलसेल बिजनेस में लगभग 600 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। जहां तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात की बात है तो वहां रिटेल बिजनेस को लगभग 4800 करोड़ रुपए जबकि होलसेल बिजनेस को लगभग 2200 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।

दिल्ली में कुल 4,400 करोड़ जबकि पंजाब में 1,250 करोड़ के बिजनेस का लॉस

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राष्ट्रीय महामंत्री ने यह भी बताया कि दिल्ली में रिटेल बिजनेस को लगभग 3000 करोड़ रुपए जबकि होलसेल बिजनेस को लगभग 1400 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। साउथ के कर्नाटक में रिटेल बिजनेस का घाटा लगभग 4300 करोड़ रुपए जबकि होलसेल बिजनेस का घाटा लगभग 1950 करोड़ रुपए है। जहां तक पंजाब की बात है तो वहां रिटेल बिजनेस को लगभग 900 करोड़ रुपए जबकि होलसेल बिजनेस में नुकसान 350 करोड़ रुपए का है।

राजस्थान में रिटेल बिजनेस में 1,900 करोड़, होलसेल बिजनेस में 850 करोड़ का लॉस

भरतिया और खंडेलवाल के मुताबिक, राजस्थान में रिटेल बिजनेस का घाटा लगभग 1,900 करोड़ रुपए रहा है जबकि होलसेल बिजनेस में 850 करोड़ का नुकसान हुआ है। मध्य प्रदेश में रिटेल बिजनेस का घाटा लगभग 1,700 करोड़ रुपए जबकि होलसेल बिजनेस में नुकसान लगभग 750 करोड़ रुपए रहा है। उत्तर प्रदेश में रिटेल बिजनेस का नुकसान लगभग 3,800 करोड़ रुपए है जबकि होलसेल बिजनेस का घाटा 1,500 करोड़ रुपए है।

‘2020 में हुए लॉकडाउन से रिकवर होने के लिए अभी बहुत कुछ करना है’

खंडेलवाल ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण सहित कई केंद्रीय मंत्रियों और नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत के नाम ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट में उन सबसे लॉकडाउन के चलते कारोबार बंद रखने वाले दुकानदारों के लिए राहत पैकेज लाने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि 2020 में हुए लॉकडाउन से रिकवर होने के लिए अभी बहुत कुछ करने की जरूरत है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

%d bloggers like this: